Mar 22, 2010

DCE या DTU

DCE या DTU
कुछ दिनों से सोच रहा था की इस विवाद पर कुछ लिखूं । आज समय मिल पाया। दिल्ली इन्जिनीरिंग कॉलेज, जिसको अब दिल्ली सरकार ने दिल्ली टेक्नीकल युनीवेर्सिटी बना दिया है, एक जाना पहचाना नाम है तकनीकी शिक्षा क्षेत्र में। मैं भी इंजीनियरिंग स्नातक रहा हूँ सो यह मुद्दा अपना सा लगता है । गत वर्ष जब दिल्ली की शीला आंटी की सरकार ने दिल्ली टेक्नीकल युनिवेर्सिटी बनाने की घोषणा की तभी लगा की इसकी क्या जरुरत थी। दिल्ली में पहले से ही गुरु गोबिंद सिंह इन्द्रप्रस्थ विश्वविद्यालय है जिसकी स्थापना तकनिकी संस्थान के रूप में की गई थी। फिर एक और तकनिकी विश्वविद्यालय की क्या जरुरत??

स्टुडेंट्स की यह बात बिलकुल जायज है की DCE का नाम बदल कर सरकार ने गलत किया है । DTU तो ऐसा लगता है जैसे UPTU (उत्तर प्रदेश तकनिकी विश्वविद्यालय) जैसा एक आम विश्वविद्यालय है जो पहले से ही बदनाम है । DCE जो पहले केद्रीय विश्वविद्यालय (दिल्ली विश्वविद्यालय) के अंतर्गत था अब DTU बन के दिल्ली सरकार के अंतर्गत आगया है ।

यह कोई भी सोच सकता है इससे किसको फ़ायदा हुआ या होगा । विद्यार्थियों का तो बिलकुल नहीं ! !
हाँ अब दिल्ली सरकार अपने लोगों को DTU की प्रबंधन समिति में रख सकती है चाहे उनका तकनिकी शिक्षा से कोई लेना देना न हो!!!

मैं DTU द्वारा अख़बारों में दिए गये विज्ञापन के बाद भी विद्यार्थियों की मांगों से सहमत हूँ। उनको न्याय मिलना ही चाहिए।

आपका
सौरभ