Jul 24, 2015

Bhagwad Gita ch. 1 verse 28

Bhagwad Gita

अर्जुन अवाच

दृष्ट्वेमं स्वजनं कृष्ण युयुत्सुं समुपस्थितम् |
सीदन्ति मम गात्राणि मुखं च परिशुष्यति || २८ ||

अर्जुन बोले:
हे कृष्ण, मैं अपने लोगों को युद्ध के लिये तत्पर यहाँ खडा देख रहा हूँ। || १ – २६ ||