Jul 15, 2015

Bhagwat Gita Ch. 1 verse 20

Bhagwat Gita

अथ व्यवस्थितान्दृष्ट्वा धार्तराष्ट्रान कपिध्वजः |
प्रवृत्ते शस्त्रसंपाते धनुरुद्यम्य पाण्डवः || २० ||
हृषीकेशं तदा वाक्यमिदमाह महीपते

तब धृतराष्ट्र के पुत्रों को व्यवस्थित देख, कपिध्वज (जिनके ध्वज पर हनुमान जी विराजमान थे) श्री अर्जुन नें शस्त्र उठाकर भगवान हृषिकेश से यह वाक्य कहे।

No comments:

Post a Comment